Homeव्यापारबाजार में अभी खरीदारी करना मतलब चलती ट्रेन के सामने खड़े होना...

बाजार में अभी खरीदारी करना मतलब चलती ट्रेन के सामने खड़े होना |

रूस और यूक्रेन के बीच जारी संकट (Russia Ukrain Crisis) के चलते भारतीय शेयर बाजार आज लगातार 7वें दिन गिरावट के साथ बंद हुए। बीसएई सेंसेक्स आज यानी 24 फरवरी को 2,700 से अधिक अंक टूटकर बंद हुआ, जो इसके इतिहास की अब तक की 10वीं सबसे बड़ी गिरावट है।

बीएसई सेंसेक्स नवंबर 2021 के अपने शिखर से करीब 9 फीसदी गिरावट पर कारोबार कर रहा है। बाजार में गिरावट के इस दौर में जहां भारी बिकवाली देखने को मिल रही है। वहीं कई एक्सपर्ट इसे खरीदारी का शानदार मौका मान रहे हैं क्योंकि इसके चलते कई शेयर अब आकर्षक भाव पर उपलब्ध हो गए हैं।हालांकि BNP परिबास (BNP Paribas) के इक्विटी रिसर्च हेड (एशिया पैसेफिक) मनीषी रायचौधरी का मानना है कि निवेशकों को अभी खरीदारी के लिए कुछ इंतजार करना चाहिए। ईटी नाऊ के साथ एक बातचीत में मनीषी ने कहा, “बाजार में अभी खरीदारी करना ऐसा होगा, मानो आप चलती ट्रेन के सामने खड़े हैं। ऐसे में जाहिर है कि कोई अभी आपको खरीदारी की सलाह नहीं देगी। बाजार में अभी भारी बिकवाली का माहौल है। कुछ समय पहले तक हम मॉनिटरी पॉलिसी में सख्ती आने के चलते ऐसी गिरावट आने की आशंका जताते थे। लेकिन नए भूराजनीतिक तनाव ने इसे और बढ़ा दिया है।”

उन्होंने कहा, “करीब 7-10 दिन पहले तक कोई इस भू-राजनीतिक स्थिति की कल्पना नहीं कर सकता था। इस मोड़ पर हमें अभी यह नहीं पता है कि यह सैन्य कार्रवाई आगे चलकर कैसा रूख लेने वाली है। ऐसे में अधिकतर निवेशकों का रवैया अभी यही है कि अपने शेयरों को बेचकर और फिर स्थिति के साफ होने का इंतजार कर सकते हैं।”

नए निवेशकों को थोड़ा इंतजार के बाद खरीदारी की सलाह देते हुए मनीषी ने कहा, “भारी बिकवाली के दबाव के चलते फंडामेंटल रूप से मजबूत कई स्टॉक अभी आकर्षक भाव पर दिख सकते हैं। हालांकि अभी यह खरीदारी का समय नहीं है क्योंकि इस बात की पूरी संभावना है कि आपको कल या परसों इससे भी अच्छी डील मिल सकती है।”उन्होंने कहा, “सेंसेक्स करीब 9 फीसदी नीचे आ गया है। इसके साथ कई ऐसे शेयर भी हैं, जिन्हें और भी अधिक गिरावट आई है। बहुत से स्टॉक अपने हालिया पीक से 20, 30 और 40 फीसदी तक लुढ़क चुके हैं। इनमें से कई पैसा बनाने वाले स्टॉक्स हैं। नए निवेशकों को फंडामेंटल रूप से मजबूत स्टॉक पर नजर रखनी चाहिए। कुछ दिनों बाद स्थिति साफ होने पर उनमें खरीदारी कर अच्छा मुनाफा बनाया जा सकता है।”इस बीच आज सेंसेक्स 2702.15 अंक यानी 4.72 फीसदी टूटकर 54,529.91 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 815.30 अंक यानी 4.78 फीसदी गिरकर 16247.95 के स्तर पर बंद हुआ। आज के कारोबार में इन्वेस्टरों की करीब 10 लाख करोड़ रुपये डूब गए और सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए।

संबंधित आलेख

सबसे लोकप्रिय